सकल हँस में राम बिराजे Lyrics- Prahalad Singh Tipaniya

Sakal hans mein ram biraje lyrics in hindi: सकल हँस में राम बिराजे राम बिना कोई धाम नहीं एक सुप्रसिद्ध कबीर भजन हैं l यहाँ से आप Sakal hans mein ram biraje lyrics download कर सकते हैं l

Sakal hans mein ram biraje lyrics in hindi
Sakal hans mein ram biraje lyrics in hindi

Sakal Hans Mein Ram Biraje Bhajan Information


यह एक पारंपरिक Guru Nanak Vaani है जिसे कई कलाकारों ने अपनी आवाज में गाया है l इनमें से Prahalad Singh Tipaniya द्वारा गाया गया भजन अति मनमोहक है l

PRAHLAD SINGH TIPANIYA SPECIAL YouTube Channel पर Prahalad Singh Tipaniya का यह Guru Nanak Vaani Sakal Hans Mein Ram Biraje Lyrics को आप भी पढ़ें एवं आनंद प्राप्त करेंl



Sakal Hans Mein Ram Biraje Lyrics In Hindi


सकल हँस में राम बिराजे 
अरे राम बिना कोई धाम नहीं 
राम बिना कोई धाम नहीं
सब ब्रह्माण्ड में ज्योत का वासा
राम को सुमिरो दूजा नहीं l

सकल हँस में राम बिराजे 
अरे राम बिना कोई धाम नहीं
सब ब्रह्माण्ड में ज्योत का वासा
हर घट में है ज्योत का वासा 
राम को सुमिरो ने दूजा नहीं l 

[ तीन गुण पर तेज हमारा 
अरे पंचतत्व पर ज्योत जले ] X2
पंचतत्व पर ज्योत जले

[ जिनका उजाला चौदह लोक में 
सूरत डोर आकाश चढ़े ] X2 

सकल हँस में राम बिराजे 
अरे राम बिना कोई धाम नहीं
यहाँ राम बिना कोई धाम नहीं
सब ब्रह्माण्ड में ज्योत का वासा
राम को सुमिरो ने दूजा नहीं l

[ नाभि कमल से परख लेना 
अरे ह्रदय कमल बीच फिरे मणि ] X2
अरे ह्रदय कमल बीच फिरे मणि

[ अनहद बाजा बाजे शहर में 
ब्रह्माण्ड पर आवाज हुई ] X2

सकल हँस में राम बिराजे 
अरे राम बिना कोई धाम नहीं
यहाँ राम बिना कोई धाम नहीं
सब ब्रह्माण्ड में ज्योत का वासा
राम को सुमिरो ने दूजा नहीं l

हीरा जो मोती लाल जवाहरात 
अरे प्रेम पदारथ परखो यहीं 
हीरा जो मोती लाल जवाहरात 
प्रेम पदारथ परखो यहीं

[ सांचा मोती सुमर लेना 
राम धनि से म्हारी डोर लगी ] X2

गुरुजन होए तो हेरी लो घट में
अरे बाहर शहर में भक्तो मति 
यहाँ गुरुजन होए तो हेरी लो घट में
अरे बाहर शहर में भक्तो मति
यहाँ बाहर शहर में भक्तो मति

[ गुरु प्रताप नानक शाह के वारने 
भीतर बोले कोई दूजो नहीं ] X2

सकल हँस में राम बिराजे 
अरे राम बिना कोई धाम नहीं
यहाँ राम बिना कोई धाम नहीं
सब ब्रह्माण्ड में ज्योत का वासा
राम को सुमिरो ने दूजा नहीं l

राम को सुमिरो ने दूजा नहीं l
राम को सुमिरो ने दूजा नहीं l



See More Lyrics on LoveHindi:




हमें उम्मीद है कि यह Prahalad Singh Tipaniya Kabir Bhajan Lyrics In Hindi आपको जरुर पसंद आया होगा l इसे अन्य दोस्तों के साथ शेयर भी करे l

Share This Article

Add Comments


EmoticonEmoticon