Deled Course 508 Assignment 3 Question 2 with Answer in Hindi

Chandan 1:27 pm
Deled Course 508 Assignment 3 Question 2 with Answer in Hindi, Nios 508 code assignment 3 का दूसरा प्रश्न और यूनिक उत्तर अब यहाँ से देखें l

Deled Course 508 Assignment 3 Question 2 with Answer in Hindi

अगर आप nios assignment 508 का answer pdf में download करना चाहते हैं तो मात्र 13 रूपये खर्च कर इसे आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं l यहाँ से pdf download करें -

Assignment Code 508 Answer in Hindi- असाइनमेंट- 3 Question- 2

Q. 1. शारीरिक शिक्षा की पाठ योजना बनाने के सिद्धांत कौन-कौन से हैं ? व्याख्या कीजिएl
Explain the principles of Lesson Planning of Physical Education.
Deled Course 508 Assignment 3 Question 2 with Answer in Hindi
उत्तर - शारीरिक शिक्षा की पाठ योजना बनाने के सिद्धांत :- शारीरिक शिक्षा पाठ निश्चित आधारभूत आधारभूत सिद्धांतों के अनुसार नियोजित होते हैं जो गतिविधियों के एक समूह से दूसरे में परिवर्तित हो सकते हैं l उदहारण के लिए व्यायाम और एथेलेटिक l जबकि सभी पाठों के लिए निम्नलिखित सिद्धांत सर्वमान्य है :-
1. उत्साह बढ़ाना :- किसी भारी या प्रबल गतिविधि को शुरू करने से पहले कक्षा का पूर्णतया उत्साह बढ़ाना जरुरी है l उत्साह बढ़ाने के अभाव में मांसपेशियों की चोट पहुँचने की सम्भावना है l उत्साह बढ़ाने के क्रम में दौड़ना, उछलना, रस्सी कूदना और टहलना हो सकता है l

2. सुव्यवस्थित विकास :- सुव्यवस्थित विकास को सुनिश्चित करने के क्रम में शरीर के सभी अंगों के समान अभ्यास के लिए पाठ अवश्य दिया जाना चाहिए l सभी बड़ी एवं छोटी मांसपेशियों को भुजाओं, पैरों, गर्दन और धड़ के लिए विभिन्न व्यायामों की सहायता से प्रयोग में लाया जाता है l इसके माध्यम से संतुलन, दक्षता, ताकत समन्वय और गति विकसित किये जाते हैं l
3. आयु और लिंग :- गतिविधियाँ विद्यार्थियों की आयु और लिंग को ध्यान में रखकर चयनित की जानी चाहिए l छठीं कक्षा के लिए व्यायाम, नवीं कक्षा के लिए व्यायामों से बिल्कुल भिन्न होने चाहिए l लड़कियों के लिए व्यायाम विषय और प्रकार में भिन्न होने चाहिए क्योंकि वे अधिक समय तक निष्पादन करने में कठिन हो सकते हैं l लड़कों के लिए शारीरिक व्यायाम सख्त और कठिन हो सकते हैं l
4. प्रगति :- एक पाठ के प्रारंभ में अचानक कठिन व्यायामों का निष्पादन करना एक विद्यार्थी के लिए असंभव है l पाठ कोमल व्यायामों से प्रारंभ होना चाहिए और धीरे-धीरे कठिन व्यायामों में बदलना चाहिए l व्यायामों की व्यवस्था में एक उपयुक्त क्रम होना चाहिए ताकि विद्यार्थियों के बीच कठिनाई के आधार गतिविधि के किसी चरण पर कुण्ठा की अनुभूति न हो l
5. व्यायाम की पुनरावृति :- एक व्यायाम केवल एक बार करने से कोई विकासात्मक मूल्य नहीं होगा l यह एक निश्चित अवधि के लिए बार-बार किया जाता है l अवधि का विस्तार या आवृति की संख्या व्यायाम की प्रकृति और उद्देश्य पर निर्भर हो सकता है जिसके लिए यह पाठ योजना में स्थापित किया गया है l सामान्य व्यायाम के लिए कम दुहराव जरुरी होता है l जबकि जटिल व्यायामों के लिए अधिक दुहारावों की अपेक्षा होती है l
6. पाठ की निरंतरता :- एक बार जब पाठ शुरू होता है तो यह अंत तक बिना बाधित हुए जारी रहना चाहिए l यदि बाधा आती है और शरीर को गतिविधि की परिशुद्धि, ताकत और लय को ठंडा होने को बाध्य करता है तो यह विपरीत प्रभाव डालेगा l
7. लचीला बनाना :- व्यायाम के पश्चात शरीर को सामान्य स्थिति में लाया जाता है लेकिन सहसा नहीं बल्कि कोमल व्यायामों के द्वारा l अंगों को हिलाने, तानने, सर को घुमाने, लम्बे स्वसन जैसे व्यायाम और अन्य अधिक व्यायाम इस उद्देश्य के लिए अच्छे हैं l शारीरिक और मनोवैज्ञानिक कारणों के लिए लचीला बनाना आवश्यक है l
उपरोक्त सभी सिद्धांत शारीरिक शिक्षा की पाठ योजना बनाने के लिए आवश्यक हैं l
अगर आपको यह पोस्ट  "Deled Course 508 Assignment 3 Question 2 with Answer in Hindi" अच्छा लगे तो इसे अन्य दोस्तों के साथ भी शेयर करें l अगर आप सम्पूर्ण 508 ASSIGNMENT ANSWER PDF DOWNLOAD करना चाहते हैं तो इसे मात्र 13 रूपये खर्च कर यहाँ से कर सकते हैं l 

Share This Article

Add Comments


EmoticonEmoticon