507 ASSIGNMENT IN HINDI WITH PDF - ASSIGNMENT -1 QUESTION - 2

507 ASSIGNMENT IN HINDI WITH PDF - ASSIGNMENT -1 QUESTION - 2, DELED ASSIGNMENT 507 HINDI, NIOS 507 ASSIGNMENT IN HINDI, 507 KA ASSIGNMENT ANSWER, 507 ASSIGNMENT IN HINDI PDF.

507 ASSIGNMENT IN HINDI WITH PDF - ASSIGNMENT -1 QUESTION - 2 - Describe the need of involving the community in school education. Discuss how the community can be involved in improving school education? Give at least five ways. 

प्रश्न - 2. विद्यालयी-शिक्षा में समुदाय को सम्मिलित करने की आवश्यकता का वर्णन कीजिए l विद्यालयी-शिक्षा में सुधार हेतु समुदाय को किस प्रकार सम्मिलित किया जा सकता है? कम से कम पाँच तरीके बताइए l


507 ASSIGNMENT 1 QUESTION 2
उत्तर - विद्यालयी-शिक्षा में समुदाय की भागीदारी का उद्देश्य शिक्षा का सार्वभौमिकरण है जिसका तात्पर्य है सभी बच्चों के लिए विद्यालयी सुविधाओं की उपलब्धता, सभी बच्चों को नामांकन प्राप्त करने एवं प्रणाली को सभी विद्यार्थियों को बनाये रखने के लिए उत्तदायी बनाना l किसी प्रकार की गतिविधि का लक्ष्य समुदाय और अभिभावकों/परिवारों को शिक्षा में शामिल करने का प्रयास करना है जो शैक्षिक हस्तांतरण को सुधारता है ताकि अधिकांश बच्चे बेहतर सीखें और बदलते संसार के लिए अच्छी तरह तैयार हों l

शैक्षिक प्रणाली को समर्थ बनाने के लिए अपेक्षित वितीय, मानवीय तथा भौतिक संसाधनों की गतिशीलता को बढ़ाने के लिए समुदाय की भागीदारी एक साधन हैं l जनसंख्या के सभी वर्गों विशेषकर कमजोर वर्गों की जरूरतों, समस्याओं, आकांक्षाओं एवं रुचियों के लिए शिक्षा को अपनाने में भागीदारी भी आवश्यक है l 
विशेषतः समान अवसर प्राप्त करने के परिप्रेक्ष्य में शिक्षा के प्रजातांत्रिकरण के लिए भागीदारी भी अनिवार्य है जिसका तात्पर्य है योजना, निर्णय निर्माण एवं विद्यालयी शिक्षा के व्यवस्थापन में स्थानीय लोगों की सहभागिता l शिक्षा प्रणाली के प्रति समुदाय को तटस्थ होने से बचाने के क्रम में भागीदारी अपरिहार्य है l पहल को प्रेरित करने में यह भी एक महत्वपूर्ण उपकरण है l

RELATED - 506 ASSIGNMENT -1 QUESTION 1 & 2 ANSWER
  
विद्यालयी-शिक्षा में सुधार के लिए समुदाय की भागीदारी :-

विद्यालयी-शिक्षा में समुदाय की भागीदारी से शिक्षा के गुणवत्ता में सुधार होता है l शिक्षा में गुणवत्ता को सुधारने के लिए विद्यालयों एवं समुदायों को एक दूसरे के साथ निकटता से कार्य करना चाहिए l यदि समुदाय विद्यालय के साथ सम्बद्ध है तो यह विद्यालय के व्यवस्थापन में बेहतर नेतृत्व देता है तथा छात्रों के निष्पादन को सुधारता है l अतः विद्यालयी-शिक्षा में सुधार के लिए समुदाय को निम्न तरीके से शामिल किया जा सकता है –

RELATED - 506 ASSIGNMENT -2 QUESTION 1 & 2 ANSWER

(a) विद्यालय से बाहर के बच्चों के लिए सर्वेक्षणों में भाग लेकर, बालश्रम पर जागरूकता बनाने में, नामांकन जागरूकता में भाग लेकर l 
(b) विद्यालय मानचित्रण अभ्यास में भागीदारी, विद्यालय की स्थिति, विद्यालयी संसाधनों जैसे भवन, कक्षाकक्षों, शौचालयों, पेयजल सुविधाओं की उपलब्धता में भागीदारी l 
(c) धन, सामग्री और श्रम के योगदान के माध्यम से भागीदारी l 
(d) उपस्थिति (विद्यालय में अभिभावक सभा में), कक्षा-कक्ष में शिक्षण-अधिगम एवं साफ-सफाई का निरीक्षण करने के लिए विद्यालयों का दौरा कर, शिक्षकों के साथ विद्यार्थियों के निष्पादन पर चर्चा के माध्यम से भागीदारी l 
(e) एक विशेष मुद्दा जैसे आधारभूत संरचना या शिक्षण विधि कैसे सुधारी जाये पर विचार के माध्यम से सहभागिता l 
(f) सेवा उपलब्ध कराने में भाग लेना, जब शिक्षक अनुपस्थित हो तो पढ़ाना या व्यावसायिक कौशलों/संगीत की शिक्षा देना l 
(g) बच्चों की उपस्थिति, शिक्षकों की नियमितता का निरीक्षण करना l 
(h) प्रोत्साहनों जैसे मुफ्त पाठ्यपुस्तक, विद्यार्थियों तक परिधान पहुँचाने का निरीक्षण करना, मध्याहन भोजन की नियमितता एवं गुणवत्ता का निरीक्षण करना l

RELATED - 506 ASSIGNMENT -3 QUESTION 1 ANSWER
वर्धित रूप से यह स्पष्ट हो चूका है कि शिक्षा में गुणवत्ता को सुधारने के लिए विद्यालयों एवं समुदायों को एक दूसरे के साथ निकटता से कार्य करना चाहिए l स्वस्थ विकास प्रोन्नत करने तथा अधिगम एवं विकास की बाधाओं को संबोधित करने के संबंध में विद्यालय पाते हैं कि वे अपने कार्य को बेहतर कर सकते हैं जब वे समाज के एक एकीकृत एवं सकारात्मक अंग के रूप में हैं l वास्तव में बहुत से विद्यालयों के लिए उनके शैक्षिक मिशन को सफल बनाने में उन्हें समुदाय के संसाधनों – जैसे पारिवारिक सदस्यों, पड़ोसी नेताओं, व्यवसाय समूहों, धार्मिक संस्थाओं, लोक एवं नीजि एजेंसियों, पुस्तकालयों, पार्कों एवं मनोरंजन स्थलों, समुदाय आधारित संगठनों, नागरिक समूहों, स्थानीय सरकार आदि का सहयोग बहुत जरुरी है l विद्यालय में सक्रिय रूप से भागीदार होने के लिए समुदाय को एक विद्यालय की चुनौतियों एवं सफलताओं के बारे में सूचित होना चाहिए l जानना चाहिए कि कैसे वे योगदान दे सकते हैं, गर्व की अनुभूति कर सकते हैं तथा विद्यालय की उपलब्धियों में स्वामित्व प्राप्त कर सकते हैं l विद्यालय बेहतर निष्पादन कर सकते हैं यदि विद्यालय एवं समुदाय के बीच नजदीकी संबंध हैंl 

Share This Article

Add Comments


EmoticonEmoticon